पिछला

ⓘ खटमल परजीवी कीट है जो खून पर जिंदा रहता है। इसकी आम प्रजाति मनुष्य के रक्त पर भोजन करती है। यह घर में विशेषकर बिस्तर के पास रहते हैं। ये लाल-भूरे रंग के होते है ..




खटमल
                                     

ⓘ खटमल

खटमल परजीवी कीट है जो खून पर जिंदा रहता है। इसकी आम प्रजाति मनुष्य के रक्त पर भोजन करती है। यह घर में विशेषकर बिस्तर के पास रहते हैं। ये लाल-भूरे रंग के होते हैं और पाँच चरणों में अपना जीवनकाल पूरा करते हैं। हर चरण में इन्हें इंसान का खून चाहिए होता है। एक मादा खटमल अपने पूरे जीवनकाल में दो सौ से चार सौ अंडे देती है। खटमल गंदगी में पनपते हैं और यदि बहुत दिनों तक बिस्तर को धूप नहीं दिखाया जाए या सीलन हो जाए तो ये पनप जाते हैं। इनके काटने से खुजली होती है और लाल चकत्ते नजर आते हैं।

खटमल 5 मिलिमीटर के होते हैं और इनके काटने से बीमारियाँ होती हैं। लेकिन खुजली काफी ज्यादा होती है। 1950 के दशक तक इनका खात्मा दुनिया की कई जगहों से ओ गया था। यह सफलता कृत्रिम कार्बनिक यौगिक से बने कीटनाशकों के चलते थी। लेकिन खटमल ने अब कई तौपर प्रतिरोधक क्षमता विकसित कर ली है। इनसे बचाव का सबसे अच्छा तरिका बिस्तर, सोफा, वगैरह को धूप दिखाना ही है।