पिछला

ⓘ कुंवर अमर. बाद में उन्होंने अपने नाटक और रोमांस भूमिका के लिए और अधिक प्रसिद्धि प्राप्त की चैनल वी भारत के दिल दोस्ती नृत्य वह रोमांटिक किशोरों नाटक में अपने अभ ..




                                     

ⓘ कुंवर अमर

कुंवर अमर. बाद में उन्होंने अपने नाटक और रोमांस भूमिका के लिए और अधिक प्रसिद्धि प्राप्त की चैनल वी भारत के दिल दोस्ती नृत्य वह रोमांटिक किशोरों नाटक में अपने अभिनय के लिए जाना जाता है। बनने शुरू कर दिया दिल दोस्ती नृत्य. वह इस प्रकार हिंदी टेलीविजन उद्योग में अच्छे अभिनेताओं में से एक के रूप में खुद को स्थापित. कर सके है।

                                     

1. पुर्व जिन्दगी

कुंवर अमर उर्फ कुंवर अमरजीत सिंह पैदा हुए इंदौर, मध्य प्रदेश, भारत मे एक हिंदू राजपूत परिवार मे। उनके पिता और भाई सरकारी पुलिस निरीक्षक है। एक बहुत छोटी उम्र से, वह एक कलाकार के रूप में माने गये, विशेष रूप से एक नर्तकी के रूप में। उन्होंने Kc कॉलेज में अध्ययन किया | मुंबई में, वह डांस इंडिया डांस ज़ी टीवी क शो मे आये, जहां उन्हे अपने नृत्य साथी शक्ति मोहन के साथ एक महान प्रसिद्धि मिली।

कुंवर अमर यहां तक ​​कि कुछ माध्यमिक विद्यालय में एक नृत्य शिक्षक भि थे, जहां वे बच्चों को नृत्य शैलियाँ सिखाते थे। बाद मे उन्हे रे रेयान्श सिंहनिआ का रोल मिला, दिल दोस्ती नृत्य मे।

                                     
  • क य इन सभ न अ गर ज क ख ल फ म रच ल न क ठ न ल और जगद शप र क ब ब क वर स ह स पत र च र क य इस ब च म श ख भ ख र न बड क गढ क फ ज म र च
  • स थ न पर लगत ह इस म ल म भ रत य स वत त रत स ग र म क तम म ज न अनज न अमर शह द क र त व र क य द क य ज त ह यह म ल उनक व च र व स म त य
  • स प दक, स ग तक र तथ ग यक सभ क छ थ म त र 14 वर ष क उम र म ह श ण त क वर न टक क रचन कर आपन असम य स ह त य क सम द ध कर द य 1935 म असम य
  • प र प त क अमरत dailyhunt.in. झ रख ड क प रम ख व यक त त व र ज ठ क र व श वन थ श हद व 1817 - 1858 16 अप र ल hamarjharkhand.com. अमर शह द ठ क र
  • इन द र ज त र क र प म मन ई ज त ह भ ट स वर प क म ऊ क च र महर भईय क वर स ह महर, च हज स ह महर, च चल स ह महर और ज ख स ह महर क प रद न क थ
  • म र य 340 ई प - 298 ई प म गल सम र ट अकबर और 1857 क गदर क न यक व र क वर स ह न भ स यह ह थ य क खर द क थ सन 1803 म र बर ट क ल इव न
  • झ झ न और नरहड क नव ब क पर स त कर द य और ब क म सलम न क भग द य क वर पन न स ह द व र ल ख त रणक सर ज झ र स ह नमक प स तक म अ क त ह क
  • ब न ग स स क ए एक ह थ स उस क उठ कर फ क द य व कनपट पर ल त म र क वर क प र ण पख र उड गए ल ठ न घर ज कर स ड घटन बत ई. ल ठ क म त - प त
  • ह त त आज म इस एम प यर ट क ज क म ल क नह बनत ऐस द लद र थ हम र शहर क ग रव प र मन थ अमर प र मन थ फ ल मफ यर प रस क र न म कन स च
  • भ रत य जनत न जबरदस त स घर ष क य उसन अपन ख न स त य ग और बल द न क अमर ग थ ल ख उस रक तर ज त और ग रवश ल इत ह स क म च स झ स क र न लक ष म ब ई

यूजर्स ने सर्च भी किया:

...
...
...