पिछला

ⓘ १७८९. 13 नवंबर- बेंजामिन फ्रैंकलिन ने अपने मित्र को एक पत्र में लिखा- मृत्यु और करों को छोड़कर कुछ भी स्थाई नहीं है।” ..




१७८९
                                     

ⓘ १७८९

  • 13 नवंबर- बेंजामिन फ्रैंकलिन ने अपने मित्र को एक पत्र में लिखा-" मृत्यु और करों को छोड़कर कुछ भी स्थाई नहीं है।”